Tuesday , 22 May 2018

    Home » ashutosh » आशुतोष महाराज जी की समाधि कोरा अन्धविश्वास नहीँ

    आशुतोष महाराज जी की समाधि कोरा अन्धविश्वास नहीँ

    बैंगलोर १६ दिसम्बर २०१४ अग्रवाल समाज के सह सचिव श्री ओम प्रकाश जी पोद्दार ने अपने विचार प्रकट करते हुए कहा दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान एक धार्मिक एवं सामाजिक एक अंतरराष्ट्रीय स्तर की संस्था है जो कि समाज के प्रत्येक वर्ग में जागरूकता का प्रसार कर रही है| संस्थान के विचार ज्ञान-विज्ञान से परिपूर्ण हैं| संस्थान द्वारा आध्यात्मिक जन-जाग्रति के साथ-साथ नशे के विरुद्ध, कन्या भ्रूण हत्या के खिलाफ, कैदी सुधार, पर्यावरण संरक्षण, देसी गो-संवर्धन, रक्त-दान कैंप, ग़रीब बच्चो  को निशुल्क शिक्षा, अपंग लोगों के उत्थान इत्यादि हेतु अनेक कार्यक्रम चलये जा रहे हैं| संस्थापक व संचालक श्री आशुतोष महाराज जी गहन समाधि की अवस्था में हैं और यह काफ़ी गहरा अध्यात्मिक विषय है| इसे अपनी सोच के अनुसार नही मापा जा सकता है| यदि हमें समाधि की अवस्थाओं के बारे में नही पता तो इसका मतलब यह नही की इस तरह की समाधि नही हो सकती| संविधान के अनुसार  नागरिकों को धार्मिक आज़ादी प्रदान की गयी है तो फिर श्री आशुतोष महाराज जी की समाधि के विषय में भी यह लागू होती है | हम सरकार से यह अपील करते हैं कि वे संस्थान से जुड़े प्रत्येक वर्ग एवं संप्रदाय के लोगो  की आस्था को मद्देज़नर रखते हुए कोई सुखद हल निकाले जिससे शांति और सौहार्द का माहौल बना रहे|

    आशुतोष महाराज जी की समाधि कोरा अन्धविश्वास नहीँ Reviewed by on . बैंगलोर १६ दिसम्बर २०१४ अग्रवाल समाज के सह सचिव श्री ओम प्रकाश जी पोद्दार ने अपने विचार प्रकट करते हुए कहा दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान एक धार्मिक एवं सामाजिक ए बैंगलोर १६ दिसम्बर २०१४ अग्रवाल समाज के सह सचिव श्री ओम प्रकाश जी पोद्दार ने अपने विचार प्रकट करते हुए कहा दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान एक धार्मिक एवं सामाजिक ए Rating: 0
    scroll to top
    Translate »